सिद्धारमैया पर मोदी के मंत्री का पलटवार, पूछा- आपको भारत पर गर्व है या नहीं?

Spread the love


केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया पर भारत द्वारा कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ चल रहे टीकाकरण अभियान में एक अरब से अधिक खुराक देने को लेकर उनकी टिप्पणी पर निशाना साधा है।

कर्नाटक विधानसभा में विपक्ष के नेता सिद्धारमैया ने शुक्रवार को सवाल किया था कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता एक अरब से अधिक खुराक को मील का पत्थर क्यों मना रहे हैं, जबकि भारत की केवल 21 प्रतिशत आबादी को पूरी तरह से टीका लगाया गया है।

एक के बाद एक ट्वीट में सिद्धारमैया ने चेतावनी दी कि भारत अभी भी खतरे की स्थिति में है। कर्नाटक के पूर्व सीएम ने यह भी कहा, “केवल 29 करोड़ लोगों को दोनों खुराकें मिली हैं। 42 करोड़ लोगों को एक खुराक मिली है। 62 करोड़ लोग बिना किसी वैक्सीन के रह गए हैं।”

Read Also:  झारखंड: राज्य में देश की पहली यूनिवर्सल पेंशन योजना लागू, जानिए- कौन हैं पेंशन के हकदार और कबतक मिलेगी राशि

केंद्रीय मंत्री प्रल्हाद जोशी ने शनिवार को पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि 31 प्रतिशत आबादी को पूरी तरह से टीका लगाया गया था। पूरी दुनिया में लगाए गए सात अरब टीकों में से अकेले भारत ने एक अरब से अधिक लगाए गए हैं।

समाचार एजेंसी एएनआई ने जोशी के हवाले से कहा, “मैं सिद्धारमैया से पूछना चाहता हूं, आपको भारत पर गर्व है या नहीं?”

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कई विकसित देशों में लोग कोविड-19 के खिलाफ टीका लगाने के लिए आगे नहीं आ रहे हैं। जोशी ने आगे कहा, “हालांकि, यहां हमारे नेताओं और चिकित्सा बिरादरी ने लोगों में जागरूकता पैदा की, जिसके कारण लोग आ रहे हैं और टीका लगवा रहे हैं। स्वदेशी टीकों का निर्माण बड़ी उपलब्धि है।

Read Also:  12 दिन बाद बदल जाएगा इन राशियों का भाग्य, दुख- दर्द होंगे दूर, करेंगे नई शुरुआत

आपको बता दें कि 21 अक्टूबर को भारत ने एक अरब से अधिक टीकाकरण की रिकॉर्ड उपलब्धि हासिल की। यह आंकड़ा पार करने वाला चीन के बाद दूसरा देश है। मोदी सरकार को इस ऐतिहासिक उपलब्धि तक पहुंचने में नौ महीने लग गए।

भारत में अब तक कुल 1,013,028,411 वैक्सीन खुराकें दी गई हैं। इनमें से 712,413,356 लाभार्थियों को पहली खुराक मिली है और शेष 300,615,055 को दोनों खुराक मिली हैं। पिछले 24 घंटों में 60.8 लाख से अधिक खुराक दी गई।

Related posts:

Dev Uthani Ekadashi 2021: देवउठनी एकादशी कब है? जानिए देव थान कैसे रखे जाते हैं और व्रत में क्या खान...
कन्हैया के रवैये से परेशान CPI, बने रहने को मांगा अध्यक्ष पद और टिकट बांटने का अधिकार
UPSC IAS Exam : क्या हिंदी मीडियम वालों को मिलते हैं कम नंबर, जानें यूपीएससी टॉपर का जवाब
निर्मला सीतारमण ने हावर्ड के छात्रों से कहा- निंदनीय है लखीमपुर हिंसा, PM नहीं करते किसी आरोपी की रक...
CSK vs KKR LIVE: कोलकाता नाइट राइडर्स ने चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ जीता टॉस, पहले बल्लेबाजी का किय...
शराबबंदी कानून से पीछे नहीं हटेंगे सीएम नीतीश, कहा- शराब पियोगे तो मरोगे
IRCTC: सिर्फ 10 दिन में उड़ा निवेशकों के चेहरे का रंग, 30 हजार करोड़ का झटका
अभी जेल में ही रहेंगे आर्यन खान, कोर्ट ने खारिज की जमानत याचिका
बिहार पंचायत चुनाव: एक और फर्जीवाड़ा आया सामने, बिना नामांकन के ही महिला बनी प्रत्याशी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *