नगालैंड में सैनिकों ने क्यों की नागरिकों पर फायरिंग, अब क्या हैं हालात; अमित शाह ने संसद में सब कुछ बताया

Spread the love


नगालैंड में सैनिकों की ओर से आम लोगों पर फायरिंग के मामले पर गृह मंत्री अमित शाह ने संसद में पूरी जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि सेना को ओटिंग गांव में अतिवादियों के मूवमेंट की जानकारी मिली थी। इसके बाद 21 कमांडोज ने संदिग्ध इलाके की घेरेबंदी कर ली थी। इसी दौरान एक वाहन वहां पहुंचा और उसे रुकने के लिए कहा गया। लेकिन उन लोगों ने भागने की कोशिश की। सैनिकों को लगा कि उस गाड़ी में शायद अतिवादी लोग थे और उन्होंने फायरिंग कर दी। इस फायरिंग में गाड़ी में बैठे 8 में से 6 लोगों की मौत हो गई थी। सैनिकों को तुरंत ही पता चला कि यह हादसा गलत पहचान के चलते हुआ है। 

इसके बाद घटना में घायल दो लोगों को सैनिक खुद ही पास के हेल्थ सेंटर में भी ले गए। इसी दौरान यह खबर आसपास के इलाकों में पहुंच गई और बड़ी संख्या में लोग जुट गए। गुस्साई भीड़ ने 2 वाहनों को आग लगा दी और उन पर हमला कर दिया। इस हमले में एक सैनिक की भी मौत हो गई। गुस्साए लोगों से बचने के लिए सैनिकों ने एक बार फिर से फायरिंग कर दी ताकि लोग तितर-बितर हो जाएं। इसमें भी 7 नागरिकों की मौत हो गई। होम मिनिस्टर ने कहा कि फिलहाल स्थानीय प्रशासन और पुलिस की ओर से हालात को संभालने का प्रयास किया जा रहा है।

Read Also:  पीएम मोदी आज मेरठ में, खेल विश्वविद्यालय का देंगे तोहफा

अमित शाह ने कहा, ‘फिलहाल स्थिति तनावपूर्ण है, लेकिन नियंत्रण में है। 5 दिसंबर को नगालैंड के डीजीपी और कमिश्नर मौके पर पहुंचे थे। एफआईआर दर्ज कर ली गई है और हालात की गंभीरता को समझते हुए स्टेट क्राइम पुलिस स्टेशन को जाांच सौंप दी गई है। घटना की जांच के लिए एसआईटी का गठन कर दिया गया है और एक महीने में जांच रिपोर्ट सौंपने का आदेश दिया गया है।’

Read Also:  CDS जनरल बिपिन रावत की अंतिम यात्रा में शामिल हुए 4 पड़ोसी देशों के टॉप कमांडर

एजेंसियों को दिया है आदेश, भविष्य में न हो ऐसी कोई घटना

उन्होंने कहा कि यह फैसला लिया गया है कि सभी एजेंसियां यह तय करें कि भविष्य में कभी भी इस तरह की घटना न दोहराई जाए। सरकार की पूरे घटनाक्रम पर नजर है और इलाके में शांति बनाए रखने के लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। होम मिनिस्टर ने कहा कि स्थिति की जायजा कल लिया गया था। होम मिनिस्टर ने पूर्वोत्तर के अतिरिक्त प्रभारी सचिव को कोहिमा भेजा था। इसके बाद उन्होंने सोमवार को चीफ सेक्रेटरी से मुलाकात की। इस मीटिंग में वरिष्ठ अधिकारी और सैन्य अधिकारी भी मौजूद थे। 



Write To Get Paid

Biography

Read Also:  Sooryavanshi Twitter Review: थिएटर से निकलते ही दर्शकों ने अक्षय-कटरीना की फिल्म को बताया 'ब्लॉकबस्टर', देखें रिएक्शन

Related posts:

रूसी मिसाइल को लेकर भारत पर प्रतिबंध नहीं लगाएगा US? रिपब्लिकन पार्टी के सांसद ने बाइडेन प्रशासन से ...
नौसेना के नए विध्वंसक 'INS विशाखापत्तनम' की एंट्री, बराक-ब्रह्मोस मिसाइल से लैस 'बाहुबली' से कांपेंग...
कार खरीदने का है प्लान? जानें कैसे कम कर सकेंगे इंश्योरेंस की लागत 
राजद: लालू प्रसाद यादव को बंधक बनाने की बात उनके व्यक्तित्व से नहीं मिलती, तेजप्रताप यादव के आरोप पर...
86 प्रोफेसर व 83 एसोसिएट प्रोफेसर के पदों पर अनुबंध पर होगी भर्ती
Bigg Boss 15 Weekend Ka Vaar: राखी सावंत ने बताए अपने तीनों पति के नाम, सलमान खान ने सलीके से लगाई प...
IRCTC: सिर्फ 10 दिन में उड़ा निवेशकों के चेहरे का रंग, 30 हजार करोड़ का झटका
नवमी पर पुजारी की हत्याः तेजस्वी बोले-अब कोई नहीं बोलेगा जंगलराज, बिहार में सत्ता संरक्षित अपराध की ...
दिल्ली में भी पहुंचा ओमिक्रॉन? LNJP अस्पताल में अब तक 12 संदिग्ध मरीज भर्ती

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *