चारा घोटाला मामले में सीबीआई कोर्ट के सामने पेश हुए लालू, अब 30 को होगी सुनवाई

Spread the love


बिहार के पूर्व मुख्‍यमंत्री और राजद प्रमुख लालू यादव आज सीबीआई कोर्ट सामने पेश हुए। चारा घोटाला के तहत भागलपुर और बांका कोषागार से जुड़े मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने लालू यादव को सशरीर उपस्थित होने का आदेश दिया था। अब इस मामले की सुनवाई अगले 30 नवम्‍बर को होगी। 

अधिवक्‍ता सुधीर सिन्हा ने मीडिया को बताया कि कोर्ट ने सीबीआई को निर्देश दिया है कि वो 30 नवम्‍बर को गवाह को पेश करे। उधर, लालू यादव ने कोर्ट को बताया कि वो बीमार चल रहे हैं। डॉक्‍टर उनका इलाज कर रहे हैं। ऐसे में उन्हें राहत दी जाए। लालू यादव ने कोर्ट से वादा किया कि जब भी उनकी जरूरत होगी, वे उपस्थित रहेंगे। इसके बाद सीबीआई कोर्ट ने लालू यादव को 30 नवम्‍बर को सशरीर उपस्थित रहने से राहत दे दी। वे वकील के जरिए अपनी बात रख सकेंगे। 

Read Also:  दाऊद के गुर्गे की पत्नी ने लगाया रेप का आरोप, हार्दिक- मुनाफ और राजीव शुक्ला का भी लिया नाम

कोर्ट में पेशी के लिए लालू यादव सोमवार को ही दिल्‍ली से पटना पहुंचे थे। उनके साथ उनकी पत्नी राबड़ी देवी और बेटी मीसा भारती भी आईं थीं। गौरतलब है कि यह मामला भागलपुर और बांका कोषागार से 46 लाख रुपए की अवैध निकासी से जुड़ा है। कोर्ट ने लालू समेत 28 आरोपियों को 23 नवम्‍बर को पेश होने का आदेश दिया था। 

सिस्‍टर नीलिमा से मिले लालू 

कोर्ट से निकलने के बाद राजद प्रमुख लालू यादव ने संत जोसेफ स्कूल जाकर मैरी वार्ड में बीमार सिस्टर नीलिमा से मुलाकात की। 

उपचुनाव के बाद दिल्‍ली चले गए थे लालू 

लालू यादव इसके पहले बिहार उपचुनाव के पूर्व 24 अक्‍टूबर को पटना आए थे। उपचुनाव में उनकी पार्टी के उम्‍मीदवार को हार मिली थी। तीन नवम्‍बर को वह पूरे परिवार के साथ दिल्‍ली लौट गए थे। चारा घोटाला मामले में लालू यादव के खिलाफ कुल छह मामले चल रहे हैं। इनमें से पांच मामले रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत में और एक मामला पटना सीबीआई कोर्ट में चल रहा है। 

Read Also:  'अनुपमा' रुपाली गांगुली का ये वीडियो देख भड़क गए लोग, जानें- ट्रोलिंग की वजह और सच्चाई

वकीलों ने किया था कार्य बहिष्‍कार 

लालू यादव के पहुंचने से पहले सिविल कोर्ट के वकीलों ने कार्य बहिष्कार किया था। वकील, मधुबनी के झंझारपुर कोर्ट में एडीजे पर पुलिसकर्मियों द्वारा हमला किए जाने की घटना की जांच की मांग कर रहे थे। उन्‍होंने इस मामले में निर्दोष वकीलों को फंसाने की कोशिश का आरोप लगाया। लीपापोती का आरोप लगाते हुए वकीलों ने मामले की निष्‍पक्ष जांच की मांग की। 

Write To Get Paid

Related posts:

कंगना रनौत ने महात्मा गांधी पर दिया विवादित बयान, बोलीं- वह चाहते थे भगत सिंह को फांसी हो और...
लोजपा सांसद प्रिंस राज पासवान को बड़ी राहत, दिल्ली की अदालत ने रेप केस में दी अग्रिम जमानत
ब्रिटेन में तेल का भारी संकट
नीट में जमा दस्तावेज व्हाट्सएप पर भेजा, मेडिकल में एडमिशन के नाम पर 50 लाख की ठगी
सूर्य देव की कृपा से 16 दिसंबर तक ये राशि वाले मनाएंगे जश्न, चमकेगा भाग्य का सितारा
Bihar Panchayat Fifth Phase Counting Live: कड़ी सुरक्षा के बीच जारी है पांचवे चरण की मतगणना
‘मैडम सर’ एक्ट्रेस ने सांवले होने की वजह से झेले रिजेक्शन, ऑडीशन में पूछा था- ‘नौकरानी के रोल के लिए...
अब फेसबुक ने भी खोली पोल, कहा- तालिबान की मदद कर रहे थे पाकिस्तानी हैकर्स
12 दिन बाद बदल जाएगा इन राशियों का भाग्य, दुख- दर्द होंगे दूर, करेंगे नई शुरुआत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *