खुशखबरी! इस साल किसानों की आय होगी दोगुनी, जानें क्या है सरकार की योजना?

Spread the love


कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने मंगलवार को कहा कि केंद्र और राज्य सरकारें एकजुट होकर वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने के लक्ष्य को आगे बढ़ा रही हैं। वर्ष 2016 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने वर्ष 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने का एक अत्यधिक महत्वाकांक्षी लक्ष्य निर्धारित किया था। सितंबर, 2018 में ‘किसानों की आय दोगुना’ पर एक अंतर-मंत्रालयी समिति ने इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए रणनीतियों की सिफारिश करते हुए एक रिपोर्ट सौंपी थी। पैनल की सिफारिशों को स्वीकार करने के बाद, सरकार ने प्रगति की समीक्षा और निगरानी के लिए एक ‘अधिकार प्राप्त निकाय’ का गठन किया है।

जीडीपी में कृषि का योगदान है महत्वपूर्ण
गोवा में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए तोमर ने कहा कि केंद्र सरकार ने कृषि और संबद्ध गतिविधियों को सर्वोच्च प्राथमिकता दी है। देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में कृषि का योगदान महत्वपूर्ण है, इसलिए कृषि क्षेत्र को मजबूत करना और भी जरूरी है। तोमर के हवाले से एक सरकारी बयान में कहा गया है, ‘‘प्रधानमंत्री के वर्ष 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने के सपने को साकार करने के लिए केंद्र और राज्य सरकारें और देश के किसान एकजुट होकर काम कर रहे हैं।’’ उन्होंने कहा कि महामारी के दौरान भी कृषि क्षेत्र समय की कसौटी पर खरा उतरा और किसानों ने बंपर पैदावार की। गोवा में भी जब वहां का पर्यटन उद्योग ठप था, कृषि क्षेत्र आगे बढ़ा।

Read Also:  अर्जुन कपूर ने दिखाया मलाइका अरोड़ा के साथ मालदीव डेट का वीडियो, आइसक्रीम से की शरारत

जानें क्या है योजना?
छोटे किसानों को मजबूत करने के लिए शुरू की गई पीएम-किसान जैसी केंद्रीय योजनाओं पर प्रकाश डालते हुए तोमर ने कहा कि केंद्र वर्ष 2027-28 तक 10,000 किसान उत्पादक संगठनों (एफपीओ) की स्थापना के लिए प्रयासों को प्रोत्साहित कर रहा है, जिसमें कुल बजटीय परिव्यय 6,865 करोड़ रुपये है और इस योजना को गोवा में सफलतापूर्वक लागू किया जा रहा है। ’’कार्यक्रम को संबोधित करते हुए गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा, ‘‘इस क्षेत्र में उन्नत तकनीक और नई तकनीकें राज्य में युवाओं को कृषि की ओर आकर्षित कर रही हैं।’’उन्होंने लोगों से कृषि, बागवानी, डेयरी फार्मिंग, मछली पालन और फूलों की खेती के रूप में एकीकृत खेती करने का भी आग्रह किया।

Read Also:  शराब पीने वालों को CM नीतीश की खरी-खरी, बोले-दारू पीना है तो मत आइए बिहार 

Write To Get Paid

Biography

Related posts:

क्वॉड की अगली बैठक में चीन की 'दुखती रग' पर होगी चर्चा, भारत भी है सदस्य; जानें कहां होगी मीटिंग
ओमिक्रॉन के खौफ के बीच WHO की चेतावनी- बढ़ सकती हैं मौतें, पिछले किसी वैरियंट में ऐसी तेजी नहीं देखी
नोबेल शांति पुरस्कार विजेता मलाला यूसुफजई ने की शादी, सोशल मीडिया पर पोस्ट की तस्वीरें, देखें
आरोपों से घिरे तो आठवले की चौखट पर पहुंची वानखेड़े फैमिली; मलिक से बोले मंत्री- साजिश करना बंद कीजिए
शराबबंदी का सच: रो-रोकर बच्चों ने बताया- किताब के लिए मिले रुपए से शराब पी गये पापा, वीडियो हो रहा व...
सिद्धारमैया पर मोदी के मंत्री का पलटवार, पूछा- आपको भारत पर गर्व है या नहीं?
पीएम मोदी आज मेरठ में, खेल विश्वविद्यालय का देंगे तोहफा
LPG cylinder: खुशखबरी! महज 2 घंटे के भीतर घर पहुंचेगा रसोई गैस सिलेंडर, वो भी मामूली प्रीमियम पर
IRCTC: सिर्फ 10 दिन में उड़ा निवेशकों के चेहरे का रंग, 30 हजार करोड़ का झटका

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *